किसने दी वल्लभ भाई पटेल को “सरदार” की उपाधि?

आप सरदार वल्लभ भाई पटेल को भली-भाति जानते होगे। आज जो अखंड भारत है उसमे सरदार वल्लभ भाई पटेल का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। लेकिन क्या आपको पता है वो वल्लभ भाई पटेल आखिरकार सरदार वल्लभ भाई पटेल कैसे बना? किसने सबसे पहले वल्लभ भी पटेल को सरदार वल्लभ भाई पटेल कहा? क्या गांधीजी ने वल्लभ भाई पटेल की उपाधि दी या किसी स्वतन्त्रता सेनानी ने? चलिये जानते है।किसने दी वल्लभ भाई पटेल को “सरदार” की उपाधि?

किसने दी वल्लभभाई पटेल को “सरदार” की उपाधि?

बात देश के आजाद होने से पहले की है। सन 1925 मे गुजरात मे तहसील बारडोली बाढ़ और अकाल से जूझ रहा था। इससे वह के लोग काफी परेशान थे। लेकिन अंग्रेज़ जैसा की आप जानते है, हमेशा अपने फाड़े की ही पड़ी रहती थी।

अंग्रेज़ो ने उस वर्ष के लिए लगान 30 प्रतिशत पट बढ़ा दिया। एक तो पहले से ही लोग परेशान थे और ऊपर से ये tax! इससे लोगो का जीवन काफी प्रभावित हुआ। एक तो पहले से ही बाढ़ और अकाल की समस्या थी ओर ऊपर से ये इतना सारा कर! आखिर इंसान कहा से भरे ये tax।

तब वह के लोगो की मदद के लिए सरदार वल्लभ भी पटेल(उस समय वल्लभ भाई पटेल) आगे है और गांधीजी के दिखाये गए रास्ते से बारडोली सत्याग्रह चलाया।

अंग्रेज़ो ने अपनी पूरी कोशिश की इस सत्याग्रह को भंग करने की लेकिन पटेल ने अपने पैर पचे नहीं लिए। अहिंसा के मार्ग से उन्होने सत्याग्रह आंदोलन को सफल बनाया और आखिरकार अंग्रेज़ो को हार मनानी पड़ी।

इससे लोगो मे वल्लभ भाई पटेल के लिए सम्मान और प्यार बढ़ गया।

तब  वहा की महिलाओ ने वल्लभ भाई पटेल को सरदार की उपाधि दी।

इस तरह पूरे देश मे लोग वल्लभ भाई पटेल को “सरदार वल्लभ भाई” पटेल के नाम से जानने लगे।

You May Also Like

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *