इन तीन से चलती है दुनिया | Real Truth behind Science

इन तीन से चलती है दुनिया – हमेशा से ही हमे ये पढ़ाया गया है की इस संसार की हर वस्तु परमाणु से बनी है। ये परमाणु Electrons, Protons and Neutrons से मिलकर बना होता है। इन्हे खोजने का श्रेय अलग-अलग वैज्ञानिको को दिया जाता है। लेकिन आज हम जानेंगे की कैसे हमारे वेदो मे इसके बारे मे काफी पहले से ही बताया गया है।

इन तीन से चलती है दुनिया Real Truth behind Science

आपको सबसे पहले आपको कुछ जानकारी जानना बहुत जरूरी है।

इन तीन से चलती है दुनिया | Real Truth behind Science

क्या कहती है Science परमाणु के बारे मे?

According to Science, परमाणु के अंदर mostly इलेक्ट्रॉन, प्रोटोन और Neutrons होते है। इन सब से मिलकर हर परमाणु बना होता है। Neutrons और protons परमाणु के केंद्र मे रहते है जबकि electrons केंद्र के चारो ओर चक्कर लगता है। इन तीन से मिलकर ही किसी भी परमाणु की रचना होती है। हर युनीक परमाणु मे इनकी संख्या अलग अलग रहती है। जैसे की हीलियम के परमाणु मे प्रोटोन की संख्या 2 होती है जबकि लिथियम ने 3 होती है।

Electron पर हमेशा negative charge यानि की नकारात्मक आवेश होता है, Protons पर धनात्मक और न्यूट्रोन पर कोई आवेश नहीं होता है।

क्या कहता है हिन्दू धर्म?

According to Hinduism, ब्रह्मा, विष्णु और महेश(शिव) को हम त्रिदेव भगवान कहते है जो इस दुनिया को चलाते है। इन तीनों का work अलग-अलग और युनीक है। ब्रह्मा सृष्टि(creation) के भगवान है, विष्णु रक्षक और शिव विनाश के। इन तीनों का काम अलग-अलग है लेकिन ये तीनों एक ही है। इन तीन से मिलकर ये दुनिया चलती है। इन तीनों का होना आवश्यक है और इनका न तो आदि है और न ही अंत।

हिन्दू धर्म के अनुसार तीन एक महत्व अंक है। जैसे की तीन काल – भूत, भविष्य और वर्तमान। जीवन की तीन सफर – जन्म, जीवन और मृत्यु। Thoughts – सकारात्मक, नकारात्मक और मिश्रित। तीन कण – इलेक्ट्रॉन, प्रोटोन और न्यूट्रोन।

ब्रह्मा, विष्णु और महेश का संबंध

जैसा की मैंने ऊपर बताया की इलेक्ट्रॉन पर नेगेटिव, प्रोटोन पर पॉज़िटिव और न्यूट्रोन पर कोई चार्ज नहीं होता है।

शिव विनाश के देवता है जो की nagative को शो करता है। हिन्दू धर्म के अनुसार पापियो के विनाश का श्रेय शिव को ही दिया जाता है।

विष्णु जीवन रक्षक के भगवान है। जब-जब पाप बढ़ा है विष्णु ने जीवन पर अवतार लेकर दुनिया को विनाश से बचाया है जो की positive को शो करता है। हिन्दू धर्म के अनुसार श्री कृष्ण को भी विष्णु का एक अवतार ही माना जाता है जिनहोने श्रीमद्‍भगवद्‍गीता की रचना की।

loading...

ब्रह्मा सृष्ठी के देवता है जिनका काम किसी का विनाश करना या किसी का जीवन बचाना नहीं है। इसलिए इन्हे न्यूट्रोन कहा जा सकता है। इनके निवास का स्थान एक जगह fix है उसी तरह जैसे न्यूट्रोन का परमाणु के नाभिक मे।

Vishnu is a god of savor. विष्णु को परमाणु के प्रोटोन बताया जाता है जो उनकी प्रकृति के अनुरूप है। विष्णु के निवास का स्थान भी fix है। वे हमेशा दुनिया को बचाने के लिए अवतार लेते है जिनकी तुलना प्रोटोन से की जाती है। प्रोटोन का स्थान भी फिक्स है।

Shiva is god of the destroyer. इनकी तुलना इलेक्ट्रॉन से की जाती है। शिव को क्रोधित, शक्तिशाली और विनाशी के रूप मे धर्म मे बताया गया है।

हिन्दू धर्म मे specially शिव और विष्णु का गहरा महत्व बताया गया है जिस तरह परमाणु मे इलेक्ट्रॉन और प्रोटोन का। शिव के पूजनीय हमेशा विष्णु रहे है जबकि विष्णु के पूजनीय हमेशा शिव।


यही नहीं, हिन्दू धर्म मे ओर भी बहुत सारे रहस्य है जिसे हमारा आज का विज्ञन भी मानता है। छोटे से लेकर बड़े वैज्ञानिक और दार्शनिक हिन्दू धर्म से प्रभावित है। गायत्री मंत्र से लेकर संस्कृत भाषा का हमेशा से विज्ञान से गहरा संबंध रहा है।


अगर आपको यह जानकारी “इन तीन से चलती है दुनिया | Real Truth behind Science” पसंद आया तो इसे share करना न भूले।

यहा कोई भी अपना ज्ञानवर्धक लिख publish करा सकता है। अगर आपके पास भी कोई ज्ञान वर्धक सामग्री है तो आप उसे अपने नाम, फोटो और संक्षिप्त मे जानकारी के साथ [email protected] पर भेज सकते है।

MotivationBeing.com एक स्वतंत्र ब्लॉग है। इसे चलाये रखने मे अपना  सहयोग दे। You may do a donation through Paytm on 6375022637.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *